Home समाचार Vishakapatnam Gas Leak: ज़हरीली गैस के रिसाव से गयी 8 लोगों की...

Vishakapatnam Gas Leak: ज़हरीली गैस के रिसाव से गयी 8 लोगों की जान, 200 से ज्यादा हॉस्पिटल में भर्ती।

37
0

Vishakapatnam Gas Leak: ज़हरीली गैस के रिसाव से गयी 8 लोगों की जान, 200 से ज्यादा हॉस्पिटल में भर्ती: आज विशाखपटनम से एक चौकाने वाली खबर सामने आई हैं। जहा की एक फ़ार्मा कंपनी में ज़हरीली गैस लीक होने से एक बच्चे समेत 8 लोगों की एएन चली गयी तथा कई लोग अब अभी हॉस्पिटल में भर्ती हैं। इस घटना की बाद पूरे देश में तहलका मच गया और हर कोई पीड़ित व्यक्तियों की मदद के लिए पहुचा।

स्टारीन गैस का रिसाव 3 किलोमीटर तक हुआ-

सूत्रो के अनुसार विशाखपटनम में सुबह 2.30 बजे एक फ़ार्मा कंपनी में गैस लीक हो गयी तथा लीक का पता समय पर न चलने के कारण इस गैस का रिसाव 3 किलोमीटर तक होता चला गया। लोगों की जान बचाने के लिए आस पास के सभी 6 गाओ को खाली करा लिया गया हैं। और बीमार लोगों का उपचार जल्दी से जल्दी किया जा रहा हैं।

स्टारीन गैस का रिसाव कितना घातक-

डॉक्टरर्स के अनुसार इस गैस का नाम स्टारिन गैस हैं। जो प्राणियों के लिए बाहुत ज्यादा घटक सिद्ध हो सकती हैं। रात के समय में इसका रिसाव होने के कारण लोगों को इसका पता नहीं चला और साँस लेने के साथ ही स्टारीन गैस लोगों के शरीर के अंदर चली गयी। जिसे 8 लोगो को मृत्यु हो चुकी हैं। इसके बाद जिन लोगों के शरीर में थोड़ी सी गैस का प्रवेश हुआ था। उन्हे उल्टी, पेट दर्द और सर दर्द जैसे लक्षण देखने को मिले और उनको बेहोशी महसूस हुई। अभी वह सब व्यक्ति हॉस्पिटल में हैं और उनका इलाज चल रहा हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने लिया जायज़ा-

विशाखपटनम में गैस के लीक होने के बाद से ही वह अफ़रा तफरी का माहौल हैं। कई बड़े अधिकारियों ने लोगों के स्वास्थ्य का जायज़ा लिया। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने ट्विट्टर के जरिये विशाखपटनम के लोगों को साझा किया और ट्वीट किया कि “हम लोग विशाखपटनम के गैस लीक पर नज़र बनाए हुए हैं। मैंने राष्ट्रीय आपदा प्रबधन मंत्रालय से भी बात की हैं तथा विशाखपटनम के लोगो तक मदद भी पहुचाने का आदेश दिया हैं। में हर तरह से विशाखपटनम के लोगों के कल्याण के बारे में विचार कर रहा हू।“

तो अभी भी विशाखपटनम के गैस लीक कांड के बाद कई ऐसे पीड़ित लोग हैं जो हॉस्पिटल में ज़िंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे हैं। लोगों की सुरक्षा के इंतेजाम किए जा रहे हैं। तथा हर तरह से गैस के प्रभाव को खतम करने का प्रयास किया जा रहा हैं। अभी तक 8 लोगो कि मृत्यु हो चुकी हैं जिसमे एक 8 साल का बच्चा भी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here