Home Uncategorized नफ़रत फैलाने के आरोप में इस्लामिक धर्म प्रचारक जाकिर नाईक के “पीस”...

नफ़रत फैलाने के आरोप में इस्लामिक धर्म प्रचारक जाकिर नाईक के “पीस” टीवी नेटवर्क पर हुई कारवाई।

225
0

नफ़रत फैलाने के आरोप में इस्लामिक धर्म प्रचारक जाकिर नाईक के “पीस” टीवी नेटवर्क पर हुई कारवाई: एक बार फिर विवादो में रहने वाले इस्लामिक धर्म प्रचारक जाकिर नाईक के खिलाफ क़ानूनी कारवाई हुई हैं जिसमे उनके टीवी नेटवर्क पर तीन लाख पाउंड का जुर्माना लगाया गया हैं। “पीस” टीवी नेटवर्क के द्वारा जाकिर नाईक पर नफ़रत फैलाने के आरोप लगे हैं। साथ ही हिंसा भड़काने के लिए भी उनके खिलाफ़ कारवाई की गयी हैं।

सूत्रो के अनुसार, जाकिर नाईक के टीवी नेटवर्क “पीस” टीवी और “पीस टीवी उर्दू” पर कुछ नफ़रत फैलाने वाले भाषण और आपत्तिजनक प्रोग्राम पाये गए। जिनसे टेलिविजन देखने वाली जनता का ध्यान भटक सकता है। साथ ही वह हिंसा करने के लिए भड़क सकते हैं।

तब ब्रिटेन की ऑफकॉम संस्था जो मीडिया पर निगरानी रखती हैं उन्होने जाकिर नाईक के “पीस” टीवी के खिलाफ़ कारवाई शुरू की जिसे जाकिर नाईक को तीन लाख पाउंड की राशि का भुगतान करना पड़ा।

इसके प्रश्चात ऑफकॉम ने एक बयान भी जारी किया जिसके अंतर्गत उन्होने कहा कि “पीस” टीवी पर कुछ ऐसे भाषण और प्रोग्राम दिखाये गए थे जिनके द्वारा हिंसा भड़क सकती हैं। धार्मिक संपदाए करके दंगे भी हो सकते हैं। इसलिए हमने “पीस” टीवी पर कारवाई करनी जरूरी समझी। आशा की जाती हैं कि आगे इस तरह के शॉ और भाषण का प्रसारण नहीं होगा। जो भी शॉ या भाषण मीडिया के नियमों के विरुद्ध होंगे उनपर कारवाई करना आवश्यक होगा।

बता दे कि जाकिर नाईक भारत में भी कई बार हिंसा भड़का चुके हैं। और इसके लिए उनके उपर कई मुकदमे भी दर्ज़ हो चुके हैं। इस्लामिक धर्म गुरु व प्रचारक के रूप में जाकिर नाईक लोगो में हिंसा और धर्म का तुष्टीकरण कर रहे हैं। जो आगे चलकर के भयंकर रूप ले लेगा। अपने टीवी चैनल और भाषण के माध्यम से जाकिर नाईक कई बार भारत के मुसलमानो को भड़काने का प्रयास कर चुके हैं। जिसके खिलाफ़ भारतीय सरकार ने कारवाई भी करी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here