Home उत्तराखंड उत्तराखंड हरिद्वार के क्वारेनटाईन सेंटर के खाने में निकला कीड़ा, बिना किसी...

उत्तराखंड हरिद्वार के क्वारेनटाईन सेंटर के खाने में निकला कीड़ा, बिना किसी व्यवस्था के रह रहे हैं लोग।

543
0

उत्तराखंड हरिद्वार के क्वारेनटाईन सेंटर के खाने में निकला कीड़ा, बिना किसी व्यवस्था के रह रहे हैं लोग: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य में आने वाले प्रवासी मजदूरो के लिए हरिद्वार मे क्वारेनटाईन सेंटर की व्यवस्था की हैं। जिसे उत्तराखंड की सीमा के बाहर से आने वाले युवको को वहा रखा जा सके। साथ ही 14 दिन के क्वारेनटाईन सेंटर को पूरा करने के बाद सभी लोगो की मेडिकल जाँच करवा कर उन्हे उनके घर भेजा जा सके।

उत्तराखंड में अभी कोरोना के मरीज़ो की संख्या 469 हो चुकी हैं जिसमे से 87 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके है। बढ़ते हुए मरीज़ो की संख्या के कारण बाहर से आने वाले लोगो का क्वारेनटाईन सेंटर में रहना जरूरी हैं।

पर क्या हो अगर क्वारेनटाईन सेंटर में लोगो के रहने की व्यवस्था ठीक से ना हो? हरिद्वार के अधिकारियों ने बहादराबाद के एक हॉटल  “Imperial Blue” में दूसरे राज्य से आने वाले लोगो को क्वारेनटाईन किया हैं। 14 दिन के बाद ही उन्हे उनके घर जाने की इजाज़त दी जाएगी। पर अब यह खबर आ रही हैं कि हरिद्वार के क्वारेनटाईन सेंटर में लोगो के रहने की व्यवस्था ठीक नहीं हैं।

सूत्रो के अनुसार क्वारेनटाईन किए गए लोगो को जो खाना दिया जा रहा हैं वह बासी हैं। तथा उनके खाने में कई बार कीड़े भी निकल चुके हैं। साथ ही लोगो का दावा यह भी हैं कि वहा पर उन लोगो कि सुध लेने वाला कोई भी व्यक्ति नहीं हैं। सरकारी अधिकारी भी क्वारेनटाईन सेंटर का ब्यौरा लेने तक नहीं पहुच रहे हैं।

कुछ लोगो का कहना हैं कि उन्हे रात को सुबह की बासी रोटी दी जाती हैं। जिसे खा कर उनकी तबीयत ख़राब होने का खतरा हैं। साथ ही अगर क्वारेनटाईन सेंटर मे किसी व्यक्ति की तबीयत बिगड़ जाती हैं तो इसके लिए भी कोई स्वास्थ्य सुविधा नहीं दी गयी हैं। लोगो का यह भी कहना हैं कि क्वारेनटाईन सेंटर में साफ पीने के पानी तक की व्यवस्था नहीं हैं। और पुलिस द्वारा भी किसी तरह की मदद नहीं मिल पा रही हैं। लोगो ने कई बार क्वारेनटाईन के अधिकारियों को खराब व्यवस्था के बारे में तलब किया पर उनकी बातों को सिरे से नज़र अदाज किया जा रहा हैं।

अब यहा पर यह कहना गलत नहीं होगा कि हरिद्वार के क्वारेनटाईन किए गए लोग भगवान के भरोसे जी रहे हैं। जहा एक तरफ पूरी तरह सोश्ल डिस्टेन्सिंग का ध्यान रखने की सलाह दी जारी हैं वही दूसरी ओर बहादराबाद के जिस “Imperial Blue” हॉटल में लोगो को क्वारेनटाईन किया गया हैं वहा पर सोश्ल डिस्टेसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

बहादराबाद के “Imperial Blue” हॉटल में क्वारेनटाईन किए गए 2 युवकों को एक रूम में रखा गया हैं। तथा एक ही बाथरूम इस्तेमाल करने की इजाज़त दी गयी हैं। इसे कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा और ज्यादा बढ़ गया हैं।

लोगो का कहना हैं कि उनकी जाँच के लिए कोई भी अधिकारी नहीं हैं। सभी लोग उसी जगह पर रहने के लिए मजबूर हैं। और गंदा खाना खाने के अलावा उनके पास और कोई विकल्प नही हैं। अब सवाल यह उठता हैं कि यदि क्वारेनटाईन किए गए लोग भागते हैं तो इसमे गलती किस की हैं? प्रशासन की या फिर लोगो की?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here