Home समाचार “Jagannath Yatra 2020” सुप्रीम कोर्ट का आदेश बिना लोगो की भागीदारी के...

“Jagannath Yatra 2020” सुप्रीम कोर्ट का आदेश बिना लोगो की भागीदारी के हो भगवान जगन्नाथ की यात्रा, कोरोना वाइरस के संक्रमण के कारण लिया गया फैसला।

120
0

“Jagannath Yatra 2020” सुप्रीम कोर्ट का आदेश बिना लोगो की भागीदारी के हो भगवान जगन्नाथ की यात्रा, कोरोना वाइरस के संक्रमण के कारण लिया गया फैसला: जैसा की आप सब लोग जानते हैं कि हर साल ओड़ीशा में पूरे हर्षौल्लास के साथ भगवान जगन्नाथ की यात्रा का आयोजन होता हैं। हर साल करीब कई लाख लोग इस यात्रा में शामिल होते हैं। और इस त्योहार को बहुत ही ज्यादा अच्छे से मानते हैं। पर इस साल कोरोना वाइरस की वजह से भगवान जगन्नाथ की यात्रा पर संकट के बादल छा गए थे। पर अब सुप्रीम कोर्ट ने यात्रा के लिए नया आदेश सुना दिया हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने पहले तो ओड़ीशा में भगवान जगन्नाथ की यात्रा को करवाने के लिए मजूरी नहीं दी थी। जिसके बाद कई भक्त सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से नाखुश नज़र आ रहे थे। और इस मामले पर चार याचिकाए दाखिल कर दी गयी थी। पर अब सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर एक ओर बार सुनवाई करी हैं। नेपाल ने अपने नागरिकता क़ानून में बदलाव करके दिया भारत को एक ओर झटका, अब भारतीय बहुओ को 7 साल बाद नागरिकता देगा नेपाल”

जिसके बाद यह फैसला लिया गया कि भगवान जगन्नाथ की यात्रा को कराया जाएगा पर बिना लोगो की भागीदारी के। इस बार जगन्नाथ के भक्तों को उनकी यात्रा में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी। और यह फैसला कोरोना वाइरस की रोकथाम के कारण लिया गया हैं।

साल 2020 में भगवान जगन्नाथ यात्रा अपने समय के अनुसार ही होगी। और भगवान की यात्रा 23 जून को शुरू हो जाएगी। इसके लिए सुप्रीम कोर्ट ने कुछ नियमो का पालन करने के लिए कहा हैं। भगवान जगन्नाथ के सभी सेवकों को मास्क और सेनीटाइजर का उपयोग करना आवश्यक होगा। साथ ही यात्रा के दौरान पुलिस बल का होना भी आवश्यक हैं

ताकि कोई भी आम आदमी इस यात्रा में शामिल न हो पाये। इस साल भगवान जगन्नाथ के भक्त भले ही यात्रा का हिस्सा नहीं बन पाएगे। पर वह उस यात्रा को बिना पानी मौजूदगी के पूर्ण होता हुआ तो देख ही सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here